Sunday, 23 July 2017

G20 समिट: मोदी ने उठाया आतंकवाद का मुद्दा, चीन ने की भारत की सराहना

हैमबर्ग। जी20 शिखर सम्मेलन औपचारिक तौर पर शुरू हो गया है। जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने दुनिया भर आए शीर्ष नेताओं का स्वागत किया। मर्केल ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हाथ मिलाकर उनका जी20 सम्मेलन में बतौर मेजबान स्वागत किया। इसके साथ ही एंजेला मर्केल ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, पुतिन और चीनी राष्ट्रपति से भी मुलाकात की। सम्मेलन से पहले ब्रिक्स देशों की बैठक में पीएम मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया और सबसे बड़े कर सुधार जीएसटी के बारे में भी बात की। वहीं चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आतंकवाद पर आपनाए रुख पर भारत के कदम की सराहना की है।
चीनी राष्ट्रपति के संबोधन से पहले ब्रिक्स देशों की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया और सबसे बड़े कर सुधार जीएसटी के बारे में भी बात की। अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए किए जा रहे सुधारों का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जीएसटी से पूरा भारत एक मार्केट बन जाएगा। हमारे फैसले से वैश्विक परिस्थितियों पर बेहतर असर होगा और व्यापार में आसानी होगी।
क्या है जी20 का एजेंडा
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अगले दो दिन दुनिया को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर जी20 देशों के नेताओं के साथ बात होगी। इनमें आर्थिक विकास, सतत विकास और शांति एवं स्थिरता पर बात होगी। उन्होंने कहा कि पिछले साल हांगझू में हुई जी20 समिट में उठाए गए मुद्दों पर प्रगति की समीक्षा हो सकती है। इनमें आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन, सतत विकास, विकास और व्यापार, डिजिटलाइजेशन, स्वास्थ्य, रोजगार, पलायन, महिला सशक्तिकरण और अफ्रीका के साथ भागीदारी पर चर्चा होने की संभावना है।
G20 में ये देश होगें शामिल
इस सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन, फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों समेत अन्य शीर्ष नेताओं के हिस्सा लेने की संभावना है। आपको बता दें कि उन्नीस देशों और यूरोपीय संघ के संगठन को ग्रुप ऑफ 20 कहा जाता है. अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनिशया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सउदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, ब्रिटेन और अमेरिका इस समूह के सदस्य हैं।
जी20 सम्मेलन के विरोध में प्रदर्शन
जी20 शिखर सम्मेलन के विरोध में गुरुवार को पुलिस के साथ संघर्ष के दौरान करीब 76 प्रदर्शनकारी घायल हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, वैश्वीकरण-विरोधी वेल्कम टू हेल शांतिपूर्ण रैली ने शाम होते-होते हिंसक रूप ले लिया। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को पानी की बौछारें, मिर्च स्प्रे और लाठीचार्ज का सहारा लेना पड़ा।

Read more

अपने प्राइवेट पार्ट की ये 5 बातें पति को नहीं बताती महिलाएं

New Delhi : ऐसा कुछ कहा जा सकता है देश के कई शहरों में इस सर्वे के नतीजों के आधार पर।
सर्वे 25 से 35 साल की उम्र की विवाहित महिलाओं के बीच किया गया। शहरी महिलाएं होने के बावजूद सर्वे में ये सामने आया कि 93 फीसदी महिलाएं साफ-सफाई के मानकों पर खरी नहीं उतरती। हैरानी होगी आपको यह जानकर कि सर्वे में शामिल हर दूसरी महिला ने बताया कि वह अपने पार्टनर के साथ अपनी सेहत और साफ -सफाई को लेकर बातें शेयर नहीं करतीं।

40 फीसदी महिलाओं को वैजाइनल इंफेक्शन होता है लगभग 60 फीसदी महिलाएं सोचती हैं कि इसके लिए मेडिकल चेकअप कराने की जरूरत नहीं मुंबई की 90 फीसदी महिलाओं ने माना कि वैजाइनल इंफेक्शन से प्रभावित होती है उनकी रोजमर्रा की जिंदगी 10 में से चार महिलाओं ने बताया कि वे अपने जीवन में एक बार वजीनिटीस (एक तरह का इंफेक्शन) से पीडि़त हुई।

  44 फीसदी मुंबई, 42 फीसदी दिल्ली और 36 फीसदी बेंगलुरु में पाए गए दिल्ली में 19 फीसदी, मुंबई में 11 और बेंगलुरु में सबसे कम 8 फीसदी महिलाओं ने माना कि वे ऐसी परेशानियां शेयर करती हैं अपने हसबैंड से वैजाइनल इंफेक्शन क्या है ऐबनॉर्मल डिस्चार्ज, ड्राइनेस, इचिंग और यूरिन के वक्त जलन आदि होना

Read more

SBI में अकाउंट वाले इसे पढ़कर खुशी से उछल पड़ेंगे

New Delhi : देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक ने 75 लाख रुपये से अधिक होम लोन्स पर ब्याज दर में 10 बेसिस पॉइंट्स की कटौती कर दी है।
आरबीआई की ओर से बड़े होम लोन्स के लिए कैपिटल रिक्वायरमेंट को कम किए जाने के कुछ दिनों के भीतर ही एसबीआई ने यह फैसला लिया है। दिग्गज सार्वजनिक बैंक के इस फैसले से प्रॉपर्टी मार्केट में सुधार आ सकता है।

0.10 पॉइंट्स की कटौती के साथ ही एसबीआई से महिलाओं को 75 लाख रुपये से अधिक राशि का होम लोन 8.55% सालाना और अन्य को 8.60% की दर पर मिल सकेगा। एसबीआई ने कहा है कि 15 जून से नई दरें लागू होंगी।

आरबीआई ने अपनी मॉनिटरी पॉलिसी में बड़े होम लोन्स पर वेटेज रिस्क को 75 बेसिस पॉइंट्स से कम करते हुए 50 बेसिसस पॉइंट्स करने का फैसला लिया था। बुधवार को नीतिगत दरों के ऐलान के बाद आरबीआई ने कहा था, 'हाउसिंग सेक्टर के महत्व को देखते हुए और इसके इकॉनमी के प्रभाव के महत्व को समझते हुए हमने कुछ निश्चित कैटिगरीज पर रिस्क वेटेज को कम करने का फैसला लिया है।'

मीडिया से बात करते हुए आरबीआई के डेप्युटी गवर्नर एन. एस विश्वनाथन ने कहा था, 'हमारा आकलन है कि होम लोग सेगमेंट में डिफॉल्ट सबसे कम है। इसलिए हमने इस सेगमेंट के लिए एसएलआर को 50 बेसिस पॉइंट्स तक कम करने का फैसला किया। इसके चलते बैंकों को कुछ अधिक कैश मिल सकेगा। संभव है कि केंद्रीय बैंक की ओर से उठाए गए इन दो कदमों के चलते बैंकों को लोन के लिए अधिक राशि हासिल हो सके।'

Read more

अभी अभी: नामांकन भरने के बाद भावुक हुए वेंकैया नायडू, बोले मोदी ने आडवाणी के…

एनडीए के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार वेंकैया नायडू ने अपना नामांकन भर दिया है. इस दौरान पीएम मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, लालकृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली समेत कई एनडीए की कई पार्टियों के नेता मौजूद रहे. नामांकन के वक्त नायडू काफी भावुक नजर आए. नायडू ने इसके बाद मीडिया से बात की और कहा कि 1 साल का था तब मेरी मां का निधन हो गया था. युवा काल में पार्टी से मैं जुड़ा. तब से पार्टी ने मां की तरह मुझे संभाला. नायडू ने कहा कि उपराष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी मिलना मेरे लिए गर्व की बात है.

भावुक होकर बोले वेंकैया नायडू- पार्टी ने मां की तरह संभाला

नामांकन दाखिल करने के बाद वेंकैया नायडू ने कहा कि मुझे पार्टी के कई पदों पर काम करने का मौका मिला. उपराष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी एक अलग तरह की जिम्मेदारी है. नायडू ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि मैं इस पद की गरिमा रख पाउंगा. इस जिम्मेदारी के लिए मुझे चुना गया इसके लिए मैं पीएम मोदी, अमित शाह समेत एनडीए की सभी पार्टियों का शुक्रिया अदा करता हूं.
इससे पहले वेंकैया नायडू ने बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात की. बता दें कि उपराष्ट्रपति पद के लिए नामांकन भरने का आज आखिरी दिन है. सोमवार शाम बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक में वेंकैया नायडू के नाम पर मुहर लगाई गई. नायडू के साथ पीएम मोदी और अमित शाह भी मौजूद रहेंगे.
गोपालकृष्ण गांधी भी भरेंगे नामांकन
वेंकैया नायडू के अलावा विपक्ष के उपराष्ट्रपति उम्मीदवार गोपालकृष्ण गांधी भी आज ही नामांकन भरेंगे. गोपालकृष्ण गांधी करीब 12 बजे नामांकन भरेंगे. उनके साथ यूपीए में शामिल सभी पार्टियों के सदस्य और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी रह सकती हैं.
दो सेट में भरेंगे नामांकन
वेंकैया नायडू की तरफ से नामांकन के दो सेट दाखिल किए जाएंगे. पहले सेट में बतौर प्रस्तावक (Proposer) पीएम मोदी और अनुमोदक (seconder) गृहमंत्री राजनाथ सिंह के हस्ताक्षर बने. दूसरे सेट में प्रस्तावक (proposer) वित्त मंत्री अरुण जेटली और अनुमोदक (seconder) विदेश मंत्री सुषमा स्वराज होंगी.
मंत्री पद से दिया इस्तीफा
एम वेंकैया नायडू ने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. नायडू के जिम्मे आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय की कमान थी. मंगलवार को पीएमओ की ओर से ट्वीट कर जानकारी दी गई कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त प्रभार कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी को दिया गया है. इसके अलावा शहरी विकास मंत्रालय का अतिरिक्त जिम्मा केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर को दिया गया है.
PM मोदी ने बताया सबसे योग्य प्रत्याशी
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि संसदीय बोर्ड के सभी सदस्यों और सहयोगी दलों से चर्चा करने के बाद वेंकैया नायडू को उपराष्ट्रपति पद का प्रत्याशी बनाने का निर्णय किया गया. पीएम मोदी ने भी ट्वीट कर नायडू को उपराष्ट्रपति पद के लिए सबसे योग्य उम्मीदवार बताया.
वेंकैया नायडू के उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित होते ही तमाम नेताओं और राजनीतिक दलों ने उन्हें बधाई दी. तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने नायडू को समर्थन देने की बात कही, तो वहीं टीआरएस (तेलंगाना राष्ट्र समिति) की के कविता ने साफ किया कि उनकी पार्टी नायडू की उम्मीदवारी का समर्थन देगी.
वेंकैया नायडू से बेहतर कोई नहीं
महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडनवीस ने बताया कि वे नायडू के लिए खुश हैं और उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार के लिए उनसे बेहतर और कोई नहीं हो सकता था. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बधाई देते हुए कहा कि वेंकैया सिर्फ राजनीतिज्ञ ही नहीं बल्कि सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं. राजस्थान से बीजेपी सांसदों ने वेंकैया नायडू से मुलाकात कर उन्हें उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनने पर बधाई दी.

Read more

JIO के 500 रुपए वाले फोन की बुकिंग शुरू, ऐसे करें बुक

New Delhi : रिलायंस JIO के 4G फोन की प्री बुकिंग शुरू हो चुकी है। अभी सिर्फ नाम, MOBILE NUMBER और EMAIL ID की जानकारी ली जा रही है। यह जानकारी देने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।
रिलायंस की एजीएम में मुकेश अंबानी ने कल ही इस फोन को लॉन्च किया है। यह फ्री में दिया जाएगा। सिक्युरिटी डिपॉजिट के तौर पर 1500 रुपए जमा करवाए जाएंगे। हालांकि यह राशि भी 3 साल बाद यूजर को वापिस लौटा दी जाएगी।

ऐसे करवाएं रजिस्ट्रेशन
> जियो की ऑफिशियल वेबसाइट http://www.jio.com पर जाएं।
> यहां आपको होम पेज पर ही जियो स्मार्टफोन का बैनर दिखेगा।
> Keep me posted  पर क्लिक करें।
> इससे आप रजिस्ट्रेशन वाले पेज पर पहुंच जाएंगे।
> यहां नाम, सरनेम, मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी की डिटेल डालते ही आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।
> रजिस्ट्रेशन होते ही आपके मोबाइल नंबर पर कंपनी का मैसेज आएगा।
सबसे पहले इन्हें मिलेगा JioPhone ...
> जियो फोन 15 अगस्त से चुनिंदा ग्राहकों के लिए बीटा टेस्टिंग के लिए उपलब्ध होगा। फोन की 24 अगस्त से प्री-बुकिंग शुरू होगी और फोन सितंबर तक यूजर्स के हाथ में होगा। मुकेश अंबानी ने कहा है कि यह फोन पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर दिया जाएगा।

> फोन बुक करने के लिए जियो अभी सिर्फ यूजर की प्रारंभिक जानकारी मांग रहा है। यह पता लगाया जा रहा है कि कितने लोग फोन खरीदने में इंटरेस्टेड हैं। इसकी बुकिंग 24 अगस्त से शुरू होगी। myjio ऐप या जियो रिटेलर के जरिए फोन को प्री-बुक कर सकते हैं। इसलिए बुकिंग में देरी न करें। फोन पूरी तरह फ्री है लेकिन इसको खरीदने के लिए 1500 रुपए का डिपोजिट करना होगा। जो तीन साल बाद रिफंड कर दिया जाएगा।
> फ्री डाटा का मिसयूज रोकने के लिए यह डिपोजिट मनी रखी गई है। मुकेश अंबानी ने कहा कि लोग फ्री चीज का मिसयूज करने लगते हैं। इसलिए हम ये रुपए जियो यूजर्स से ले रहे हैं। जिन्हें 3 साल बाद वापस कर दिया जाएगा।

Read more

आईसीसी महिला विश्व कप फाइनल, इतिहास दोहराने उतरेगी टीम इंडिया

London: वर्ष 1983 में कपिल देव की कप्तानी में जिस तरह पुरूष टीम ने आईसीसी विश्वकप खिताब जीत इतिहास रचा था उसे लॉर्ड्स के इसी मैदान पर दोहराने से अब देश की महिला क्रिकेट टीम बस एक कदम की दूरी पर है। मिताली राज की कप्तानी वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने मात्र दूसरी ही बार आईसीसी विश्वकप के फाइनल में प्रवेश किया है जहां उसके सामने रविवार को तीन बार की चैंपियन इंग्लैंड की चुनौती होगी।
भारत ने वर्ष 2005 में पहली बार विश्वकप फाइनल में जगह बनाई थी जहां वह ऑस्ट्रेलिया से हारकर उपविजेता रही थी। महिला टीम का यह टूर्नामेंट में सबसे अच्छा प्रदर्शन था लेकिन इस बार उससे एक कदम आगे बढ़कर पहली बार खिताब हासिल कर भारतीय महिला क्रिकेट इतिहास के स्वर्णिम युग की शुरूआत करने की अपेक्षा है।
कांटे का मुकाबला
भारत ने इस साल 19 वनडे खेले 16 जीते। इंग्लैंड ने 8 मैच खेले 7 जीते।
भारत और इंग्लैंड वनडे क्रिकेट में लॉड्र्स में तीन बार आमने-सामने आईं हैं। दोनों एक-एक बार जीतीं। एक मैच बेनतीजा रहा।
इन पर रहेगी निगाह
मिताली राज : वनडे में इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा 1605 रन।
हरमनप्रीत : सेमीफाइनल में 171* रन बनाए थे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ
नेताली स्किवर : इंग्लैंड की इस खिलाड़ी ने ही इस विश्व कप में एक से ज्यादा शतक बनाए हैं।
आखिरी विश्व कप झूलन का
वनडे में सर्वाधिक विकेट का रिकार्ड अपने नाम रखने वाली झूलन भी इस बार अपने आखिरी विश्वकप को यादगार बनाने के लक्ष्य के साथ उतरेंगी। झूलन ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ आठ विकेट में केवल 35 रन देकर दो विकेट निकाले थे और विपक्षी टीम की धाकड़ बल्लेबाजों को भी अपनी गेंदों से रन बनाने के लिए कोई जगह नहीं दी। दीप्ति की ऑफ ब्रेक गेंदों से इंग्लैंड को भी सतर्क रहना होगा। शिखा भी साबित होंगी अहम इसके अलावा शिखा पर नई गेंद से अच्छी शुरुआत दिलाने का दबाव होगा। इंग्लैंड के पास भी बल्लेबाजों और गेंदबाजों का अच्छा क्रम है। टैमी (387) टूर्नामेंट की तीसरी सर्वश्रेष्ठ स्कोरर हैं तो हीथर नाइट (363) और विकेटकीपर सारा टेलर(351) चौथे नंबर पर हैं।
सिर्फ दो मुकाबले हारे
भारत ने इंग्लैंड को 35 रन, वेस्टइंडीज को सात विकेट, पाक को 95 रन, श्रीलंका को 16 रन से हराकर लगातार चार मैच जीते। उसे दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया से शिकस्त मिली लेकिन उसने करो या मरो के मैच में न्यूजीलैंड को 186 रन से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया और फिर ऑस्ट्रेलिया को 36 रन से हरा फाइनल में जगह बनाई।
हर खिलाड़ी को 50 लाख रुपए देगा बोर्ड
बीसीसीआई भारतीय महिला क्रिकेट टीम की प्रत्येक खिलाड़ी को आईसीसी विश्वकप फाइनल में पहुंचने की उपलब्धि के लिए 50-50 लाख रुपए का ईनाम देगा। वहीं सपोर्ट स्टाफ को 25-25 लाख रुपए का नगद ईनाम मिलेगा। मिताली राज की कप्तानी में भारतीय टीम रविवार को तीन बार की चैंपियन इंग्लैंड का सामना करेगी।

Read more

Jio का फ्री फोन लेने के लिए भरना होगा ये फॉर्म, पढ़ें पूरा प्रोसेस

रिलायंस जियो फोन लॉन्च होने के बाद हर किसी के दिमाग में यह सवाल कौंध रहा है कि कैसे इस फीचर फोन को कैसे हासिल किया जाए। बता दें कि शुक्रवार को कंपनी के मुखिया मुकेश अंबानी ने सपरिवार इस फोन को लॉन्च किया था।
जियो की वेबसाइट ने 'कीप मी पोस्टेड' पेज पर इस फोन के बारे में जानकारी अपडेट की है। पेज पर लिखा है 'इंडिया का स्मार्ट फोन जियोफोन'।

ये है पहला स्टेप

फोन के लिए रजिस्टर करने का यह पहला स्टेप है। जब आप कीप मी पोस्टेड टैब पर क्लिक करेंगे यहां आपको एक फॉर्म दिखेगा। फॉर्म में कहा गया है कि, आप खुद को रजिस्टर करें, अपनी जानकारी हमसे साझा करें और फिर हम आप तक पहुंचेंगे।

ये रहा फॉर्म

फॉर्म में आपसे आपका नाम, ईमेल आईडी. फोन नंबर मांगा गया है। इस फॉर्म में कहा गया है कि हम स्पैम पंसद नहीं करते और आपका डाटा सेफ रहेगा। इसके बाद आपको कंपनी के टर्म्स और कंडीशन को मानने के लिए टिक करना होगा। एक बार जब आप पूरा फॉर्म सही तरीके से भर देंगे तो साइट पर संदेश आएगा पंजीकरण करने के लिए शुक्रिया।

'शुक्रिया, टीम जियो'

फिर आपको जियो से एक ई-मेल आएगा।इस ईमेल में लिखा होगा- जियो की ओर से बधाई। पंजीकरण करने के लिए शुक्रिया। हमें आपकी डिटेल्स मिल गई है। हमारी टीम जल्द ही आपसे संपर्क करेगी। शुक्रिया, टीम जियो।

लगेंगे 1,500 रुपए लेकिन

बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के 40 साल पूरे होने के मौके पर आयोजित की गई वार्षिक बैठक में रिलायंस जियो की तरफ से जियो फोन लॉन्च किया गया है। यह जियो फोन जियो ग्राहकों के लिए मुफ्त में लॉन्च किया गया है, लेकिन आपको 1500 रुपए का सिक्योरिटी डिपॉजिट देना होगा, जो आपको 3 साल बाद वापस मिल जाएंगे।

Read more